प्रधानमंत्री मोदी और ठाकरे की मुलकात के क्या हैं, तीन बड़े राजनीतिक उलझाव

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ने मंगलवार को उप मुख्यमंत्री अजित पवार और कांग्रेस नेता अशोक चव्हाण के साथ प्रधानमंत्री मोदी से सलाह-मशविरा की.

इस दौरान उन्होंने सुप्रीम कोर्ट के मराठा आरक्षण कोटे पर रोक के फ़ैसले और महाराष्ट्र से जुड़े कई मुद्दों पर चर्चा की .उद्धव ठाकरे ने बताया कि उन्होंने मोदी के सामने 12 मांगें रखी हैं.

कई मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार,उद्धव ठाकरे ने प्रधानमंत्री से अकेले में मिलने के लिए 10 मिनट मांगे थे जिसे मान लिया गया और दोनों अलग से भी मिले.

इस पर ठाकरे ने प्रेस कॉन्फ़्रेंस के दौरान कहा, “हम शायद राजनीतिक रूप से साथ न हों लेकिन इसका मतलब यह नहीं है कि संबंध टूट चुके हैं. मैं नवाज़ शरीफ़ से मिलने नहीं गया था. अगर मैं उनसे अलग से व्यक्तिगत तौर पर मिला तो इसमें कुछ ग़लत नहीं है.”

प्रधानमंत्री ने सभी मुद्दों को गंभीरता से लिया है. केंद्र के पास लंबित मुद्दों पर उनके द्वारा निश्चित निर्णय लेने की उम्मीद है. मैं प्रधानमंत्री जी को बधाई देता हूं. इस बैठक का कोई राजनीतिक मक़सद नहीं था. मैं और मेरे सहयोगी संतुष्ट हैं.”

समझा जा रहा है कि ठाकरे और मोदी की इस मिलन के तीन बड़े राजनीतिक उलझाव हैं.

Donate to JJP News
जेजेपी न्यूज़ को आपकी ज़रूरत है ,हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं,इसे जारी रखने के लिए जितना हो सके सहयोग करें.

Donate Now

रहें हर खबर से अपडेट जिसे कोई नहीं दिखाता
loading...