यूपी में साड़ी खींचे जाने पर, प्रकाश राजभर ने महाभारत के चीरहरण से की तुलना, कहा- सारे राक्षस बीजेपी में ही हैं

किसी भी वीडियो को डाउनलोड करें बस एक क्लिक में 👇
http://solyptube.com/download

उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी में पंचायत चुनाव के दौरान समाजवादी पार्टी के नेता अनीता यादव की साड़ी खींचे जाने के मामले ने तूल पकड़ लिया है। इस मामले में एक बीजेपी सांसद के रिश्तेदार की गिरफ्तारी हुई है, जिसे लेकर विपक्षी दलों ने योगी सरकार को घेर लिया। अखिलेश यादव से लेकर मायावती ने इस घटना पर सरकार की निंदा की। हालांकि, आलोचना में सबसे आगे निकलते हुए सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी (SBSP) के अध्यक्ष ओम प्रकाश राजभर ने तो इस घटना की तुलना महाभारत में द्रौपदी के चीर हरण से कर दी। साथ ही यहां तक कह दिया कि सारे दुराचारी बीजेपी में ही हैं।

बोले ओम प्रकाश राजभर: सुभासपा अध्यक्ष ओपी राजभर ने इस घटना को लेकर कहा, उत्तर प्रदेश में लोकतंत्र की हत्या बीजेपी के राज में हो चुकी है। जिस तरह महाभारत में चीर-हरण हुआ था। वही पैटर्न तो बीजेपी के शासनकाल में है। ये लोग लोकतंत्र को मानने वाले लोग नहीं हैं। ये लोग कहते कुछ हैं और करते कुछ हैं।

ओम प्रकाश ने आगे कहा, प्रदेश के मुख्यमंत्री का हाल ही में बयान आया कि अपराधी या तो प्रदेश छोड़कर चले गए या जेल में चले गए। लेकिन उत्तर प्रदेश के जितने भी माफिया, गुंडा, बलात्कारी, व्याभिचारी, दुराचारी जितने लोग हैं, सब लोग बीजेपी में शामिल हो गए हैं। इसका नतीजा अपने जिला पंचायत के चुनाव में देखा। प्रमुखों के चुनाव में देखा।

बीजेपी वाले क्या जांच कराएंगे, वे खुद करते हैं ये घटनाएं: जब ओम प्रकाश से पूछा गया कि महिला की साड़ी खींचे जाने के मामले में भाजपा और सपा एक-दूसरे पर आरोप लगा रहे हैं, तो सुभासपा अध्यक्ष ने कहा, सरकार किसकी है। बीजेपी की है। वो आरोप-प्रत्यारोप क्यों लगा रहे हैं। इनके पास तो सारी एजेंसी ,पुलिस और CBI है। क्यों नहीं जांच कर लेते तुरंत तो दूध का पानी कर लेते हैं। अगर पाकिस्तान का बम फूटता है, तो ये लोग तुरंत बता देते हैं कि फलां संगठन के लोगों ने बमबारी कर दी है। तो ये तो बिल्कुल छोटी सी घटना है। लेकिन ये लोग खुद ही ऐसी घटनाएं करवाते हैं।

Donate to JJP News
जेजेपी न्यूज़ को आपकी ज़रूरत है ,हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं,इसे जारी रखने के लिए जितना हो सके सहयोग करें.

Donate Now

अब हमारी ख़बरें पढ़ें यहाँ भी
loading...