56 इंची सीने वाला बाजीगर आजकल मौन क्यों है? , महंगाई पर मोदी का पुराना वीडियो शेयर कर रहे लोग

किसी भी वीडियो को डाउनलोड करें बस एक क्लिक में 👇
http://solyptube.com/download

प्रधानमंत्री मोदी के कई पुराने भाषण सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे हैं। इन वीडियोज के जरिए विपक्षी दल के लोगों के साथ ही सोशल मीडिया यूजर्स भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भाजपा सरकार को ट्रोल कर रहे हैं। ऐसा ही एक वीडियो कुछ कांग्रेस समर्थकों के द्वारा पोस्ट किया गया है। जिसमें मोदी सरकार महंगाई पर बोलते दिख रहे हैं।

इस वीडियो में प्रधानमंत्री मोदी, मनमोहन सरकार पर हमला बोलते हुए कहते हैं कि, ” महंगाई कहां से कहां पहुंच गई। एक तरफ GDP का गिरना, दूसरी तरफ इन्फ्लेशन का बढ़ना”। अपने भाषण में आगे प्रधानमंत्री मोदी ने कहा था, कि दिल्ली सरकार हर दो-तीन महीने बाद कहती है कि महंगाई कम हो जाएगी लेकिन क्या महंगाई कम होने का नाम नहीं ले रही है। एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा था कि हमारी सरकार बनेगी तो हम आपसे वादा करते हैं

महंगाई के मुद्दे पर तत्कालीन प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह पर हमला बोलते हुए गुजरात के तत्कालीन मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने एक भाषण में कहा था, आज रुपए की स्थिति प्रधानमंत्री के जैसी हो गई है। उन्होंने मनमोहन सिंह पर तंज कसते हुए कहा था कि आज रुपया भी प्रधानमंत्री की तरह गूंगा हो गया है। कभी रुपए की खनक जोरदार हुआ करती थी लेकिन आज वह अपनी आवाज खो चुका है और हम जैसे प्रधानमंत्री की आवाज के लिए तरस रहे हैं, अब रुपए की आवाज भी नहीं सुनाई देती।

पेट्रोल डीजल के बढ़ते दाम पर भी भाजपा नेता अक्सर विरोध प्रदर्शन करते नजर आते थे। विरोध प्रदर्शन की कुछ फोटोस भी सोशल मीडिया पर लोग शेयर कर रहे हैं। 2014 में चुनावी प्रचार के दौरान बहुत हुई जनता पर पेट्रोल-डीज़ल की मार, “अबकी बार मोदी सरकार” के भी पोस्टर जारी किए गए थे। सोशल मीडिया पर लोग प्रधानमंत्री मोदी के पुराने ट्वीट को भी याद करा रहे हैं जिसमें उन्होंने कहा था, “पेट्रोल की कीमतों में बढ़ोतरी मोदी सरकार की नाकामी है”…. इससे करोड़ों गुजरातियों पर असर पड़ेगा।

स्विस बैंकों में जमा भारतीयों के पैसों में बढ़ोतरी होने को लेकर कांग्रेस भी मुख्यमंत्री मोदी पर निशाना साधते नजर आ रही है। पिछले दिनों एक आंकड़ा सामने आया था जिसके अनुसार भारतीयों का स्विस बैंक में जमा पैसा साल 2020 में 20,700 करोड़ रुपये से अधिक हो गया है। दरअसल मोदी सरकार ने चुनाव के दौरान वादा किया था कि विदेशों में जमा भारतीयों के काले धन को देश में वापस लाया जाएगा।

Donate to JJP News
जेजेपी न्यूज़ को आपकी ज़रूरत है ,हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं,इसे जारी रखने के लिए जितना हो सके सहयोग करें.

Donate Now

अब हमारी ख़बरें पढ़ें यहाँ भी
loading...